मिशन फूफा अभियान किसी संस्था या व्यक्ति विशेष के खिलाफ नहीं है बल्कि सीधे भ्रष्टाचार के खिलाफ है: विनोद दीक्षित

देश, भ्रष्टाचार, राज्य, समाज

साबिर खान, मथुरा/लखनऊ (यूधी), NIT:

सभी सम्मानित साथियों के द्वारा समय-समय पर मिशन फूफा जी के बारे में पूछा जा रहा है और लोगों की जिज्ञासा दिनों-दिन बढ़ती जा रही है कि ऑपरेशन फूफा है क्या। यहां पर बताना है कि ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जन जागरूकता समिति रजि. उत्तर प्रदेश मथुरा में पिछले 9 वर्षों से यातायात और पर्यावरण के क्षेत्र के साथ-साथ विभिन्न सामाजिक सरोकारों को लेकर काम करते आई है लेकिन अब 9 वर्षों के बाद जो हमने सामाजिक जागरूकता लाने की कोशिश की उसमें हम लोग कहीं हद तक सफल नहीं हो पाए इसका सबसे बड़ा भ्रष्टाचार, लापरवाही कारण रही। अब समिति 10 वर्ष में प्रवेश कर रही है इसलिए समिति के द्वारा अब मान लिया गया है की मूल जड़ें रहीं लापरवाही, भ्रष्टाचार के खिलाफ क्यों ना एक विशेष अभियान चलाया जाए। फूफा का हमारे समाज में बड़ा रोल है किसी का कोई खिलवाड़ है फूफा होता है इसलिए अभियान का नाम ऑपरेशन फूफा जी रखा गया है। मिशन फूफा अभियान किसी संस्था या व्यक्ति विशेष के खिलाफ नहीं है बल्कि सीधे भ्रष्टाचार के खिलाफ है, इस मुहिम में सभी का सहयोग चाहिए जब ही समाज के लिए हम कुछ कर पाएंगे। प्रथम फेस में सड़क जाम के साथ दुर्घटनाओं के लिए जिम्मेदार विभाग और लोगों के खिलाफ मिशन फूफा चलाया जा रहा है जिसकी शुरुआत हो चुकी है। ऑपरेशन फूफा 1 जनवरी से 31 मार्च तक समिति के द्वारा चलाया जा रहा है, इसकी सफलता के बाद आगे का निर्णय लिया जाएगा।

निवेदक विनोद दीक्षित प्रदेश अध्यक्ष ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जागरूकता समिति रजिस्टर्ड उत्तर प्रदेश।

Leave a Reply