गोपाष्टमी पर गौ माता की भक्ति में डूबी छोटी काशी

देश, राज्य, समाज

हरकिशन भारद्वाज, जयपुर (राजस्थान), NIT:

कार्तिक शुक्ल अष्टमी रविवार को गोपाष्टमी मनाई जा रही है। घरों से लेकर मंदिर और गोशालाओं में गायों की पूजा- अर्चना के साथ चारा, गुड़ व लड्डू खिलाया जा रहा है। गोशालाओं में आमजन को गौसेवा के प्रति जागरूक भी किया जा रहा है। इससे पूर्व महिलाओं ने गायों की कुमकुम व हल्दी का तिलक लगाकर और लाल रंग का कपड़ा ओढ़ाकर सुख- समृद्धि की कामना की। गोविंद देवजी मंदिर में सुबह 10.15 बजे मंगला झांकी के बाद महंत अंजन कुमार गोस्वामी के सान्निध्य में सुबह गोमाता का पंचामृत अभिषेक कर शृंगार किया जाएगा। ठाकुर को केसरिया रंग की नटवर वेश पोशाक धारण करवाई जाएगी। भक्त ऑनलाइन दर्शन कर सकेंगे। न्यूसांगानेर रोड स्थित चिंताहरण काले हनुमान मंदिर स्थित गोशाला में महंत मनोहरदास के सान्निध्य में गायों की पूजा-अर्चना की गई। वहीं कीर्तन कार्यक्रम हुआ।

यहां भी हो रहे हैं कार्यक्रम

सांगानेर स्थित पिंजरापोल गौशाला में गौशाला प्रबंधन की ओर से गौ मेला आयोजित हुआ। गौशाला में बनाए जा रहे आर्गेनिक उत्पाद को प्रदर्शित किया गया। वहीं गौमूत्र से तैयार औषधियों के बारे में आमजन को जानकारी दी। हिंगोनिया गौ पुनर्वास केन्द्र में गौमाता को बहुरंगी पोशाक और फूलों से सजाया जाएगा। गौपूजन, गौसेवा व संकीर्तन होगा। दुर्गापुरा, हाथोज, गोविंदगढ़, बगरू सहित आसपास की गौशालाओं में कई कार्यक्रम होंगे। सांगानेर शिकारपुरा जोतड़ावाला स्थित संत परमसुखदास आश्रम गौशाला में संत रामकरणदास के सान्निध्य में गौपूजनए गौप्रसादी और भजन संकीर्तन कार्यक्रम हुआ।

Leave a Reply