शासकीय अनुसूचित जाति महाविद्यालय छात्रावास देवरी में बनी हुई है पानी की समस्या, नगरपालिका सीएमओ से छात्रावास अधीक्षक ने की कई बार लिखित शिकायत फिर भी नहीं हुआ निराकरण

देश, भ्रष्टाचार, राज्य

त्रिवेंद्र जाट, देवरी/सागर (मप्र), NIT:

देवरी ब्लाक के सेमराखेडी ग्राम में स्थित शासकीय अनुसूचित जाति महाविद्यालय बालक छात्रावास देवरी जिसमें करीब 50 बच्चों की दर्ज संख्या है जिसमें पानी की समस्या के कारण बच्चों व वहां के छात्रावास के अधीक्षक को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पानी के कमी की समस्या के निराकरण के लिये छात्रावास के अधीक्षक कन्हैया लाल जाटव द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों को लिखित रूप से आवेदन देकर समस्या निराकरण की मांग रखी गईं थी जिसमें आदिम जाति कल्याण विभाग सागर द्वारा वहां नया बोर कर नल लाईन कनेक्शन के लिये मोटर डालने व किचन तथा शौचालयों में नल फिटिंग करने आदि कार्यों के लिये 2.72 लाख की राशि स्वीकृत की थी साथ ही छात्रावास के लिये लघु मरम्मत कार्य (टूटे हुये खिड़की दरवाजों को सुधार कर नया लगाने) के लिये करीब 50 हजार की राशि स्वीकृत की गई थी जिस कार्य को कराने के लिये नगरपालिका देवरी को एजेंसी बना कर नगरपालिका देवरी के खाते में राशि डाली गई थी जिसमें नगरपालिका देवरी द्वारा उस राशि से छात्रावास में वोर का गड्ढा तो करा दिया व उसमें ऐसी मोटर मशीन डाली जो कुछ ही समय में बिगड़ गई जिसके कारण छात्रावास में फिर से पुनः पानी की भारी समस्या होने लगी है।

वहां अधिकारियों व अधीक्षक द्वारा जो वृक्षारोपण किया गया था वह वृक्ष भी पानी की कमी से सूखने लगे हैं। नगरपालिका द्वारा 2.72 लाख व अन्य 50 हजार की राशि में मात्र पानी के लिये बोर कर मशीन डाली गई थी वो भी कुछ ही दिन में बंद होकर खराब हो गई थी तभी से आजतक बंद पड़ी हुई है और छात्रावास पानी की कमी से आज भी जूझ रहा है तथा छात्रावास में उस राशि से न तो नल फिटिंग की गई न ही सेन्टेक्स की पानी टंकी यहाँ रखी गई, दिखावे के लिये मात्र एक टंकी रख दी गई थी जबकि करीब चार टंकी रखी जानी थी साथ ही वहां के खिड़की दरवाजों के सुधार की राशि जो 50 हजार लघु मरम्मत के नाम से आयी थी उस राशि का भी बिल्कुल कार्य नहीं किया गया। ऐसा लग रहा है जैसे उस राशि को भ्रष्टाचार की भेंट चढा दिया गया हो।

मेरे द्वारा छात्रावास की पानी समस्या व मोटर खराब नल फिटिंग तथा दरवाजो खिड़कियों के सुधार आदि की समस्या के सम्बंध में नगरपालिका के मुख्य अधिकारी देवरी को करीब दस बार लिखित शिकायत भी की गई मगर अभी तक छात्रावास की पानी व अन्य समस्या का निराकरण नहीं किया गया। यहां पानी की बड़ी समस्या बनी हुई है: कन्हैया लाल जाटव, अधीक्षक शासकीय अनुसूचित जाति महाविद्यालय छात्रावास देवरी।

Leave a Reply