ग्वालियर जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 5 मिलावटखोरों पर दर्ज कराई एफआईआर एवं एक फर्म को किया सील

अपराध, देश, राज्य

हिमांशु सक्सेना, ग्वालियर (मप्र), NIT:

ग्वालियर जिला प्रशासन द्वारा पुलिस प्रशासन के सहयोग से शहर में मिलावटखोरों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई की जा रही है। इसी के तहत जिला प्रशासन द्वारा एक बड़ी कार्रवाई की गई है जिसमें 5 दुकानदारों के पूर्व में लिए गए खाद्य सामग्री के नमूने अमानक पाए जाने पर उनके खिलाफ एफआईआर कराई गई है तथा एक संस्थान को सील करने की कार्यवाही की गई है।

कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह एवं पुलिस अधीक्षक अमित सांघी के निर्देशानुसार की जा रही कार्रवाई में डिप्टी कलेक्टर संजीव कमरिया एवं अन्य अधिकारियों के दलों द्वारा खाद्य प्रतिष्ठानों व दुकानों का निरीक्षण कर उनके नमूने संगरण करण की जांच कराई जा रही है।इसके साथ ही खाद्य सुरक्षा अधिकारी रवि कुमार शिवहरे, लोकेंद्र सिंह, लखन लाल कोरी, निरुपमा शर्मा के दल द्वारा राम श्री स्कूल के पास गौरव दीपक धर्म कांटा के पीछे ट्रांसपोर्ट नगर ग्वालियर पर स्थित फर्म सेंचुरी मार्केटिंग पर कार्रवाई हेतु निरीक्षण किया गया जहां फर्म का गेट अंदर से बंद पाया गया। गेट खुलवाने पर किसी ने गेट नहीं खोला तथा धर्म कांटे के कर्मचारियों द्वारा फर्म सेंचुरी मार्केटिंग के मालिक को सूचित किया, तब संबंधित फर्म के संचालक अजीत कुमार जैन उपस्थित हुए तब मौके का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के उपरांत 3 टैंकरों में पैकिंग हेतु रखे गए रिफाइंड राइस ब्रान ऑयल के 2 नमूने एवं सरसों तेल का एक नमूना मानक स्तर की जांच हेतु लिया गया।

इसके साथ ही दल द्वारा ट्रांसपोर्ट नगर ग्वालियर पर स्थित सुपारी फैक्ट्री विकास इंटरप्राइजेज पर निरीक्षण हेतु पहुंचे तो संस्थान की ओर से कोई उपस्थित नहीं हुआ तत्पश्चात फर्म को सील करने की कार्रवाई की गई।

वहीं खाद्य सुरक्षा अधिकारी गोविंद नारायण सरगैंया, सतीश कुमार धाकड़ एवं सतीश शर्मा के दल द्वारा लवली स्वीट्स किला गेट का निरीक्षण किया गया जिसमें मिल्क केक के नमूने लिए गए।

इसके साथ ही राज्य खाद्य चलित प्रयोगशाला द्वारा ग्वालियर शहर के विभिन्न स्थानों पर लोगों को जागरूक कर 14 नमूने जांच हेतु लिए गए। जिला प्रशासन द्वारा की जा रही कार्रवाई निरंतर जारी रहेगी जिससे आम नागरिकों को शुद्ध खाद्य पदार्थ उपलब्ध हो सके।

Leave a Reply