बिना स्टॉपर और बिना सेफ्टी सेंट्रो के डाली जा रही है पाइपलाइन, कार्य पालन यंत्री ने काम बंद कराने के दिये निर्देश फिर भी ठेकेदार ने मनमर्जी से किया कार्य

देश, भ्रष्टाचार, राज्य

त्रिवेंद्र जाट, देवरी/सागर (मप्र), NIT:

देवरी जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत झुनकू ग्राम में करीब एक करोड़ पांच लाख रुपये लागत से जो नल जल योजना के तहत पानी टंकी व सप्लाई लाइन डालना व लोगों को कनेक्शन देना व पानी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराना आदि कार्य किये जाने के शासन व पी.इच.ई. विभाग द्वारा ठेकेदार को निर्देशित किया गया है व टंकी निर्माण लाइन सप्लाई डालने में गुणवत्ता व शासन नियम अनुसार कार्य करने को कहा गया था मगर संबंधित ठेकेदार संजय जैन अपनी मनमर्जी से कार्य करा रहे हैं जिसकी जानकारी लेने पर सागर जिले के कार्य पालन यंत्री व देवरी एसडीओ पीएच ई द्वारा ठेकेदार के कार्य में लापरवाही करने पर नोटिस जारी करने की बात की गई थी व कार्य स्थल पर निरीक्षण की बात की गई थी मगर करीब तीन दिन से न ही निरीक्षण किया गया न ही कार्य बंद कराया गया है न ही ठेकेदार को लापरवाही बरतने पर नोटिस जारी किया गया है।

ठेकेदार संजय जैन के मनमर्जी के सामने पीएचई विभाग सागर जिले के अधिकारी व देवरी की एसडीओ पीचई देवरी झुकते नजर आ रहे हैं और ठेकेदार पर कोई कार्यवाही नहीं कर पा रहे हैं, सप्लाई लाइन डालने का कार्य गुणवत्ताहीन किया जा रहा है। सिविल कोर्ट से लेकर शासकीय नेहरू कालेज तक मात्र दो फीट पाइप लाइन डाली जा रही है जबकि करीब तीन से चार फिट गहरी डालने का नियम है मगर प्रशासन अधिकारी चुप्पी साध के बैठे हुये हैं। पूरे झुनकू ग्राम में जहां जहां लाइन डालने के लिए खुदाई की गई वो दो फीट गहराई करके उसको ऐसे ही ढक दिया गया न काम्पेक्सन किया गया न ही पानी डालकर सड़को को पुनः टोलर या बाइक्रेटर चलाया गया है। मानकों की सुरक्षा का कोई ठेकेदार द्वारा सुरक्षा प्रबंध किया जा रहा है जिससे हादसे होने की संभावना बनी रहती है। ठेकेदार द्वारा लगातार गुणवत्ताहीन व मनमर्जी से कार्य किया जा रहा है मगर लापरवाही पर अधिकारी कार्यवाही करने को तैयार नहीं हैं। ऐसा क्या कारण है कि ठेकेदार की मनमर्जी चल रही है? क्या वर्तमान सरकार के किसी राजनैतिक नेता विधायक या मंत्री का संरक्षण है जो अधिकारी कार्यवाही करने से डर रहे हैं और ठेकेदार की लापरवाही पर कार्यवाही नहीं की जा रही है और ठेकेदार द्वारा नल जल योजना में पूरी शासन की राशि में भ्रष्टाचार कर गुणवत्ताहीन कार्य किया जा रहा है। पाइपलाइन डाले जाने के लिए खुदाई के समय न ही किसी प्रकार के स्टॉपर का उपयोग किया जा रहा न ही काम करने वाली लेवर सेफ्टी संयंत्र हेल्मेट ग्लोब्स या कोरोना काल में मास्क का उपयोग किया जा रहा है। ठेकेदार द्वारा लगातार सुरक्षा के नियमों की धज़्ज़िया उड़ाई जा रही ऐसे लापरवाह ठेकेदार पर कार्यवाही होनी चाहिए

नलजल योजना में लापरवाही बिल्कुल भी नहीं चलेगी, सप्लाई लाइन डालने के लिये तीन फीट खुदाई ही जरूरी है यदि कम खुदाई में कार्य किया जा रहा है तो मैं देवरी एसडीओ से बोलता हू और कार्य आज से ही बंद करवाता हूँ: एलपी सींग, कार्य पालन यंत्री सागर।

सप्लाई लाइन डालने में यदि आज भी लापरवाही से कार्य हो रहा है तो मैं अभी ठेकेदार को काल पर बोलती हू कि काम बंद किया जाये: प्रान्जलि राय, एसडीओपी एच ई विभाग देवरी।

Leave a Reply