मनचलों पर पुलिस की पैनी नजर, अब मनचलों की तस्वीर चौराहों पर लगेगी: एसपी आलोक प्रियदर्शी

देश, राज्य, समाज

गणेश मौर्य, ब्यूरो चीफ, अंबेडकरनगर (यूपी), NIT:

अम्बेडकरनगर जिले में अब मनचलों की खैर नहीं है। पुलिस कप्तान आलोक प्रियदर्शी ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि मिशन शक्ति अभियान के द्वारा जनपद की प्रत्येक महिलाओं की सुरक्षा हमारा दायित्व सुरक्षा और सम्मान की गारंटी देना है। एसपी आलोक प्रियदर्शी ने कहा कि मिशन शक्ति के तहत प्रदेश के हर जनपद में महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए शासन के निर्देश पर मनचलों को चिन्हित कर उनकी धरपकड़ की जाएगी जिसके साथ ही महिलाओं पर हो रहे अपराध की घटनाओं पर अंकुश लगेगा ,और आरोपियों की तस्वीर भी चौराहे पर लगाई जाएगी।
जिला प्रशासन ने मनचलों की तलाश शुरू कर दी है। शनिवार को शहर के कई इलाकों में पुलिस जवानों ने मनचलों पर पैनी नजर रखी और लोगों से मनचलों के संबंध में जानकारी ली और किसी प्रकार की हरकत देखकर सूचित करने का आग्रह किया।
स्कूल पार्क सहित अन्य सार्वजनिक स्थलों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, कोचिग संस्थान के आसपास
पुलिस ने मुआयना किया लेकिन कहीं भी मनचला नजर नहीं आया। वैसे सुबह से शाम तक ऐसे लोगों पर सादे लिबास में भी नज़र रखी जा रही है। पुलिस कप्तान ने कहा की यह अभियान लगातार जारी रहेगा।
स्कूल व कॉलेज के मुख्य द्वार सहित सड़क पर छुट्टी के समय मनचले किस्म के युवकों की भीड़ बेवजह लग जाती है। ऐसे मनचलों पर पुलिस की विशेष नज़र है। जिसकी तलाश की जा रही है। 9 दिन के नवरात्र दुर्गा पूजा को लेकर सादे लिबास में भी पुलिस मनचलों की तलाश में रहेगी। विधि व्यवस्था बेहतर बनाने के लिए चेकिग अभियान जरूरी है। वहीं कप्तान ने कहा कि अवांछित तत्वों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। जिसके लिए नियमित रूप से चेकिग की जा रही है। महिला शिकायत कर्ताओं के लिए अलग से रूम होगा जिसे महिला हेल्प डेस्क बनाया जाएगा महिला पुलिस कांस्टेबल मौजूद रहेंगे शिकायतों पर उचित कार्यवाही होगी महिलाओं और बालिकाओं की सुरक्षा के लिए 180, दिन का विशेष अभियान चलाया जाएगा।

Leave a Reply