झाबुआ में नहीं जलेगा रावण, नगर पालिका परिषद ने बैठक कर लिया निर्णय

देश, राज्य, समाज

रहीम शेरानी, ब्यूरो चीफ, झाबुआ (मप्र), NIT:

आज नगर पालिका परिषद कार्यालय के सभा कक्ष में बैठक आयोजीत की गई, इस बैठक में अनुविभागीय दंडाधिकारी एम. एल. मालवीय, नगर पालिका अध्यक्ष मनु डोडियार, उपाध्यक्ष रोशनी डोडियार की अध्यक्षता में बैठक आयोजीत हुई। बैठक में कोरोना वायरस कोविड- 19 के चलते गृह मंत्रालय मध्य प्रदेश शासन की गाइड लाइन के अनुसार किसी भी प्रकार के धार्मिक जुलूस कार्यक्रम में निर्धारित संख्या के अनुरूप आयोजित होंगे।
झाबुआ नगर पालिका परिषद द्वारा प्रतिवर्ष के अनुसार स्थानीय कॉलेज ग्राउंड पर रावण दहन का कार्यक्रम आयोजित होता रहा है जिसमें 15 से 20 हजार के लगभग की जनसंख्या रावण दहन कार्यक्रम में उपस्थित रहती है। नगर पालिका परिषद द्वारा रावण दहन करने की रूपरेखा बना ली गई थी लेकिन शासन की गाइड लाइन को देखते हुए जिला प्रशासन के निर्देशानुसार नगर पालिका परिषद के जनप्रतिनिधियों से विचार विमर्श कर रावण दहन न करने का निर्णय लिया गया। उल्लेखनीय है कि जिले की पेटलावद, थांदला नगर पंचायतों ने भी रावण दहन का कार्यक्रम स्थगित करने का निर्णय लिया है।

बैठक में समस्त जनप्रतिनिधियों ने अपने अपने विचार रखे एवं कोरोना महामारी के चलते एकमत होकर रावण दहन कार्यक्रम को स्थगित करने का निर्णय लिया गया।
बैठक में पार्षद साबिर फिटवेल, अजय सोनी, रशीद कुरेशी, नरेंद्र संघवी, नूरजहां अब्दुल, नरेंद्र राठौर, सुनीता कहार, अविनाश डोडियार, धूमा डामोर, बबलू कटार, जुवान सिंह गुंडिया एवं नगर पालिका परिषद के लेखापाल पंकज गौड़, सब इंजीनियर सुरेश गणावा, स्वास्थ्य अधिकारी यूनुस उद्दीन कुरेशी, स्वच्छता प्रभारी कमलेश जायसवाल, राजस्व निरीक्षक अयूब खान, मुकेश चौहान, महेश, पंकज, सोलंकी आदि भी बैठक में उपस्थित थे।

Leave a Reply