किसी भी प्रकार के चल समारोह के आयोजन की नहीं होगी अनुमति: एसडीएम एम.एल. मालवीय

देश, राज्य, समाज

रहीम शेरानी, ब्यूरो चीफ, झाबुआ (मप्र), NIT:

अनुविभागीय दंडाधिकारी एम एल मालवीय की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक दिनांक 9 अक्टूबर 2020 को सायं काल 5 बजे स्थानीय पुलिस कंट्रोल रूम के सभागृह में आयोजित हुई बैठक उपरांत उन्होंने कहां की कोविड-19 नोवल कोरोना वायरस के चलते मध्यप्रदेश शासन के निर्देशानुसार आगामी त्योहारों को लेकर किसी भी प्रकार के चल समारोह की अनुमति नहीं दी जाएगी साथ ही आगामी त्योहारों को मनाने के लिए विशेष तौर पर कोविड-19 के नियमों का पालन किया जाए। जो व्यक्ति नियमों का पालन नहीं करेगा उसके उल्लंघन पर संबंधित के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाने के निर्देश हैं। स्थापित किए जाने वाली प्रतिमाएं की पूर्व परिपत्र में उल्लेखित ऊंचाई मापदंड प्रतिबंध समाप्त कर प्रतिमा की ऊंचाई मापदंड क्षेत्रफल को बढ़ाकर आकार अधिकतम 30 बाई 45 1350 वर्ग फिट मैं प्रतिमा स्थापित की जा सकेगी प्रतिमा स्थापित, गरबा उत्सव उपरांत कार्यक्रम स्थल पर श्रद्धालुओं की भीड़ एकत्रित नहीं हो सोशल डिस्टेंस का पालन हो इसकी व्यवस्था आयोजकों को सुनिश्चित करना होगी मूर्ति विसर्जन संबंधित व्यवस्था आयोजन समिति की होगी जो निर्धारित स्थल पर ही विसर्जन होगी 10 व्यक्तियों के समूह को मूर्ति विसर्जन स्थल पर ले जाने की अनुमति होगी।

रावण दहन के लिए प्रतीकात्मक चल समारोह का आयोजन किया जा सकता नगर पालिका को निर्देश देते हुए कहा कि जिले में सफाई एवं शुद्ध पेयजल व सफाई व्यवस्था करने के निर्देश दिए वहीं मध्य प्रदेश पश्चिम विद्युत वितरण कंपनी विभाग झाबुआ को आगामी पर्व के अवसर पर विद्युत व्यवस्था सुचारू रूप से करने के निर्देश दे दिए हैं जश्न ए मिलाद उन नबी के अवसर पर कोविड-19 के चलते चल समारोह जुलूस प्रतीक पर प्रतिबंध है सीमित संख्या मे आयोजक गण कार्यक्रम की रूपरेखा कर सकते हैं।

बैठक में अनुविभागीय पुलिस अधिकारी एसडीओपी छारी तहसीलदार प्रवीण ओहरिया थाना कोतवाली प्रभारी टी आई सुरेंद्र गडरिया ने भी त्योहारों के अवसर पर शांति व्यवस्था नगर के प्रत्येक गरबा पंडालों स्थल, आयोजकों की जानकारी स्थल व्यवस्था पुलिस व्यवस्था विशेष रुप से करने कार्य योजना से अवगत कराया गया।

शांति समिति की बैठक में राजगढ़ नाका मित्र मंडल सचेतक ओम शर्मा, पार्षद साबिर फिटवेल, शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव सक्सेना, अजय सोनी, बबलू कटारा, नाना राठौड़, रवि बारिया, नूरजहां अब्दुल एवं गरबा मंडल के सदस्य व अन्य अधिकारीगण भी उपस्थित थे।

Leave a Reply