भाजपा नगर मंडल जुन्नारदेव के कार्यकर्ताओं ने अपने प्रेरणास्रोत पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी को याद कर मनाई जयंती

भ्रष्टाचार, राजनीति, राज्य, समाज

मो. मुजम्मिल/मो. जलील, जुन्नारदेव/छिंदवाड़ा (मप्र), NIT:

एकात्म मानववाद के प्रणेता राष्ट्र चिंतक आदरणीय पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के जन्मदिवस 25 सितंबर को भाजपा नगर मंडल जुन्नारदेव के सभी वरिष्ठजनों मातृशक्ति व युवा कार्यकर्ताओं द्वारा प्रातः 10:00 बजे स्थानीय पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्क में दीनदयाल जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित कर पंडित जी के सिंद्धान्तों पर चलने का संकल्प लिया।

दीनदयाल जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए पूर्व मंडल अध्यक्ष विष्णु प्रसाद शर्मा ने बताया कि दीनदयाल जी का जन्म 25 सितम्बर 1916 को मथुरा के नगला चन्द्रभान उत्तर प्रदेश में हुआ। अपनी प्रारम्भिक शिक्षा ग्रहण कर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी ने एक भारतीय विचारक, अर्थशास्त्री, समाजशास्त्री, इतिहासकार और पत्रकार के रूप में देश सेवा की व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के निर्माण में महत्वपूर्ण भागीदारी निभाई और भारतीय जनसंघ (वर्तमान, भारतीय जनता पार्टी) के अध्यक्ष भी बने। इन्होने ब्रिटिश शासन के दौरान भारत द्वारा पश्चिमी धर्मनिरपेक्षता और पश्चिमी लोकतंत्र का आँख बंद कर समर्थन का विरोध किया। यद्यपि उन्होंने लोकतंत्र की अवधारणा को सरलता से स्वीकार कर लिया लेकिन पश्चिमी कुलीनतंत्र, शोषण और पूंजीवादी मानने से साफ इन्कार कर दिया था। इन्होंने अपना जीवन लोकतंत्र को शक्तिशाली बनाने व जनता की बातों को आगे रखने में लगा दिया।
इसी क्रम में भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष नवजीत मोनू जैन ने कहा की दीनदयाल उपाध्याय जी अपने जीवन के प्रारंभिक वर्षों से ही समाज सेवा के प्रति अत्यधिक समर्पित थे, वर्ष 1937 में अपने कॉलेज के दिनों में वे कानपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आर.एस.एस.) के साथ जुड़े, वहां उन्होंने आर.एस.एस. के संस्थापक डॉ. हेडगेवार जी से बातचीत की और संगठन के प्रति पूरी तरह से अपने आपको समर्पित कर दिया । वर्ष 1942 में कॉलेज की शिक्षा पूर्ण करने के बाद उन्होंने न तो नौकरी के लिए प्रयास किया बल्कि वे संघ की शिक्षा का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए आर.एस.एस. के 40 दिवसीय शिविर में भाग लेने नागपुर चले गए और अपना सारा जीवन समाज उत्थान व देशसेवा में लगा दिया।

भाजपा नगर मंडल जुन्नारदेव के सभी बूथ अध्यक्षों ने भी अपने अपने बूथ पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर उनके सिद्धांत और विचारों को याद कर व अपने घर पर भाजपा ध्वज लगाकर दीनदयाल जी की जयंती मनाई।

कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन पूर्व पार्षद अनिरुद्ध बूटा चटर्जी ने किया।
कार्यक्रम में मंडल अध्यक्ष नवजीत मोनू जैन, विष्णु प्रसाद शर्मा, सी.पी. शर्मा, तरुण जैन, अशोक जुनेजा, राजेश श्रीवास्तव, अशोक बत्रा, अरविंद परिहार, सुरेश भोला सोनी, पार्षद शरद कुरोलिया, रुपेश विश्वकर्मा, सोनिया धुर्वे, महिला मोर्चा अध्यक्ष भुवनेश्वरी भन्नारे, महामंत्री रंजीता डेहरिया, शोभा विश्वकर्मा, सोनू बरखाने म, चंद्रमोहन गुप्ता, संजय जैन, जगदीश सोनी, दीपेश जैन, अक्कू यादव, विशेष चौरसिया, मेषलाल चंचल, राजेश झरबड़े, प्रवीण चौहान, महेंद्र सूर्यवंशी, देवीलाल बड़घरे, गणेश सालोडे, युवा मोर्चा अध्यक्ष रोहित मिश्रा, राजेंद्र रजक, विनम्र राजपूत, उमाशंकर मिश्रा, अभिषेक पारे, राहुल मुंगेर, गोलू चौकसे, सहरीन खान, संतु बंदेवार, शानू पांडेय, पवन टांडेकर, किशोर कैथवास, बंटी, अभिषेक चौरसिया व अन्य भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply