दोस्त ही निकला दोस्त का हत्यारा, गले के चैन के लिए किया हत्या

अपराध, देश, राज्य

शारिफ अंसारी, भिवंडी/मुंबई (महाराष्ट्र), NIT:

भिवंडी तालुका के पड़घा इलाके में हुए युवक की हत्या की गुत्थी को ठाणे ग्रामीण क्राइम ब्रांच पुलिस ने 24 घंटे में सुलझा लिया है। इस मामले में पुलिस ने एक हत्यारे को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी ने पुलिस को बताया कि लॉक डाउन के बाद वह बेरोजगारी से त्रस्त था, आर्थिक तंगी से छुटकारा पाने के लिए उसने दोस्त के गले की चैन लूटने के लिए अपने ही दोस्त को मौत की घाट उतार दिया। अदालत ने आरोपी को 20 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

पुलिस के अनुसार भिवंडी तालुका के पड़घा इलाके के मोहडूल ग्रामपंचायत अंतर्गत करजोटी गांव के आकाश नारायण शेलार (20) युवक की लाश गांव के बगल के एक खेत से शुक्रवार की रात पुलिस ने बरामद किया था जिसके सिर पर प्रहार कर उसकी हत्या की गई थी। पड़घा पुलिस ने इस हत्या के मामले में अज्ञात हत्यारों पर हत्या का केस दर्ज किया था। मामले की जांच में पडघा पुलिस के साथ ठाणे ग्रामीण की गुनाह शाखा भी जुट गई। जांच में पुलिस ने पाया कि मृत आकाश के गले से एक तोले का चैन व मोबाइल भी गायब है। इस जानकारी के बाद पुलिस ने लूटपाट के उद्देश्य से हत्या किए जाने की शक हुई और दोनों जांच टीम इस आधार पर मामले की जांच शुरू की। पुलिस ने जब आकाश के मोबाइल का सीडीआर निकाला तब मोबाइल का लोकेशन करजोती गांव में मोतीराम जाधव (20) के घर पर दिखा रहा था। इसके आधार पर क्राइम ब्रांच पुलिस ने मयूर को शानिवार को मध्यरात को हिरासत में लेकर जब पूछताछ किया तो तो चौंकाने वाली घटना सामने आई। गिरफ्तार आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह इस समय लॉक डाउन में बेरोजगारी के कारण आर्थिक तंगी से बेहाल था जबकि उसका दोस्त एक तोले का सोने का चेन पहन रखा था। आर्थिक तंगी से छुटकारा पाने व बाइक खरीदने के लिए पैसे की जरूरत थी। मौजूदा समय कमे सोने का भाव बढ़ा है जिसके कारण उसने आकाश के गले में सोने की चेन लूटकर बेचने के लिए बहाने से उसने मयूर को बुलाया व एक बैट से उसके सिर में प्रहार कर उसे मौत के घाट उतार दिया और उसका मोबाइल व चैन लूट उसके शव को खेत मे फेंक दिया।।इस मामले में पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया जिसे अदालत ने 20 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है। इस घटना से दोस्ती तार तार हो गई है।

Leave a Reply