भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज़ उठाने पर कन्हैया कुमार को प्रधान प्रतिनिधि और सेक्रेटरी से खतरा, घर में घुस कर दी गई जान से मारने की धमकी

अपराध, देश, भ्रष्टाचार, राज्य

गणेश मौर्य, ब्यूरो चीफ, अंबेडकरनगर (यूपी), NIT:

ना गुंडाराज ना भ्रष्टाचार का नारा देने वाली सरकार के नुमाइंदों की करामात उस समय सामने आया जब बीते दिनों ग्राम प्रधान और सेक्रेटरी पर लगे लाखों रुपए के गबन के आरोप को लेकर तिलमिलाया ग्राम प्रधान प्रतिनिधि शिकायतकर्ता के घर में घुसकर परिवार वालों को भद्दी भद्दी गालियां देते हुए बदसलूकी किया और जान से मारने की धमकी दी। शिकायतकर्ता का कुसूर बस इतना था कि उसने प्रधान के विकास का भंडाफोड़ किया था।

प्रधान प्रतिनिधि के बचाव में उतरे विकास खंड अधिकारी और सेक्रेटरी विनय वर्मा

विकासखंड टांडा के ग्राम सभा दौलतपुर महमूदपुर का मामला सामने आया है जहां की प्रधान निर्मला यादव हैं।
यह गांव जो अपनी बुनियादी सुविधाओं से आज भी कोसों दूर हैं। पानी और सड़क, शौचालय, जैसी बुनियादी सुविधाओं से वंचित यह गांव शासन-प्रशासन के विकास के दावों को मुंह चिढ़ा रहा है और सेक्रेटरी विनय वर्मा शासन और प्रशासन को झूठी रिपोर्ट भेजकर शासन प्रशासन को गुमराह कर विकास की गंगा बहा रहे हैं।

शिकायतकर्ता कन्हैया कुमार ने बताया कि टांडा ब्लॉक दौलतपुर महमूदपुर का यह गांव यहां के लोग ग्राम प्रधान और सेक्रेटरी की मनमानी के चलते शिकायत पर शिकायत करते हैं मगर ठोस कार्रवाई ना होने से विकास का पैसा प्रधान, सेक्रेटरी और संबंधित अधिकारी की जेब में जा रहा है। खबर प्रकाशित होते ही तिलमिलाया ग्राम प्रधान कन्हैया के घर जाकर भद्दी भद्दी गालियां देते हुए घर में रखते हुए सामान को उठा कर फेंकना शुरू कर दिया और कहां जिसको जो उखाड़ना है उखाड़ ले। फोन पर भी प्रधान प्रतिनिधि की सारी करतूत कैद हुई है। गुंडे मवाली की भाषा में बात करते हुए प्रतिनिधि ने कहा की सेक्रेटरी विनय वर्मा का तबादला हो गया है आप कोई कुछ नहीं कर सकता। इस बात से डरा सहमा कन्हैया का परिवार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रमुख सचिव, यूपी पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है और भ्रष्ट सेक्रेटरी, प्रधान और प्रधान प्रतिनिधि पर कार्रवाई करने की मांग की है।

Leave a Reply