यूपी में संपत्ति विवाद, भिवंडी में फायरिंग, गोलीबारी में एक व्यक्ति को लगी चार गोली, इलाज के लिए ज्यूपिटर अस्पताल में भर्ती

अपराध, देश, राज्य

शारिफ अंसारी, भिवंडी/मुंबई (महाराष्ट्र), NIT:

भिवंडी के गुलजार नगर इलाके में एक व्यक्ति पर रात में ताबड़तोड़ फायरिंग किए जाने से इलाके में अफरा तफरी मच गई। इस गोलीबारी में एक व्यक्ति को चार गोली लगी है जिसमें से दो आर पार हो गई। घायल व्यक्ति को इलाज के लिए ज्यूपिटर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इधर पुलिस ने इस मामले में सात व्यक्तियों पर केस दर्ज कर दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि उक्त गोलीबारी यूपी में संपत्ति के विवाद को लेकर की गई है।

पुलिस के अनुसार भिवंडी के गुलजार नगर में रहने वाले अब्दुल सत्तार मोहम्मद इब्राहिम मंसूरी नामक व्यक्ति दिनभर का काम खत्म कर बीती रात लगभग साढ़े दस बजे अपने घर जा रहे  थे और जैसे ही वह इसी इलाके में स्थित याकूब सेठ के बिल्डिंग के पास पहुंचे कि घात लगाकर बैठे हमलावरों ने बंदूक से अचानक उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग करना शुरू कर दिया। गोली लगते ही वह सड़क पर गिर गए जिसके बाद उनके परिजनों और मोहल्ले के लोगों ने उन्हें सिराज अस्पताल ले गये जहाँ पर उनकी बिगड़ती हालत को देख तथा अस्पताल में ऑपरेशन कर गोली निकालने की सुविधा न होने के कारण उन्हें ठाणे के जूपिटर अस्पताल भेज दिया।

घायल अब्दुल सत्तार के लड़के ने बताया कि उनके पिता को गोलीबारी में चार गोली लगी है, दो बुलेट गर्दन से होते हुए निकल गई, जबकि एक पेट और एक सीने में फंसी है जिसमें पेट की गोली आपरेशन द्वारा निकाल दी गई है लेकिन एक गोली अभी भी सीने में फंसी है। अत्यधिक रक्त स्राव के कारण अभी उस गोली को निकालने का प्रयास किया जा रहा है। अस्पताल के डाक्टरों ने बताया क‍ि अभी उनकी हालत बहुत नाजुक है।

सात लोगों पर केस दर्ज, दो को पुलिस ने किया गिरफ्तार

गोलीबारी में घायल अब्दुल सत्तार के पुत्र परवेज अख्तर (25) की शिकायत पर शांतिनगर पुलिस ने सिराज उर्फ़ सोनू मुश्ताक मंसूरी, वकील उर्फ़ सानू अब्बास मंसूरी, शकील उर्फ़ शेखू अब्बास मंसूरी, इश्तियाक उर्फ़ कल्लू मुश्ताक मंसूरी, मुमताज अहमद अब्दुल गफूर अंसारी, अब्दुल रज्जाक मोहम्मद इब्राहिम मंसूरी और इसरार अहमद यार मोहम्मद मोमिन सहित सात लोगों पर सीआर नंबर 582/20 में आईपीसी की धारा 307, 120 ब व आर्म एक्ट 3, 25, 27 के तहत मामला दर्ज किया है। भिवंडी पुलिस उपायुक्त राजकुमार शिंदे के नेतृत्व में व सहायक आयुक्त नितीन कौसडीकर के मार्गदर्शन में पुलिस ने कुछ ही घंटों में इस गोलीकांड के दो आरोपियों अब्दुल सत्तार के छोटे भाई अब्दुल रज्जाक मोहम्मद इब्राहिम मंसूरी और इसरार अहमद यार मोहम्मद मोमिन को हिरासत में ले लिया है। उपायुक्त शिंदे ने कहा है कि बहुत जल्द इस गोलीकांड के सभी आरोपी सलाखों के पीछे होंगे। 

डीसीपी शिंदे ने बताया को इस गोलीबारी का मुख्य कारण इनके पैतृक गांव में चल रहा संपत्ति विवाद है।उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद जिला के फूलपुर तहसील के कर्नलगंज के मूल निवासी अब्दुल सत्तार मंसूरी का गांव में परिवार के ही लोगों से विवाद चल रहा है। इसी विवाद में तीन साल पहले इनके भांजे का मर्डर हो गया था जिनमें इन्हें भी आरोपी बनाया गया था। उक्त हत्याकांड से इलाहाबाद हाईकोर्ट से जमानत पर चल रहे अब्दुल सत्तार फिल्हाल भिवंडी में अपने परिवार के साथ रह रहे हैं। यह गोलीबारी भी इसी विवाद में हुआ है।

Leave a Reply