बुरहानपुर विधायक अपने परिवार के साथ हुए 14 दिन के लिए क्वॉरेंटाइन

देश, राज्य, स्वास्थ्य

मेहलक़ा अंसारी, बुरहानपुर (मप्र), NIT:

बुरहानपुर में कोरोना के मरीजों की पुष्टि के साथ अंग्रेजी कहावत PREVENT IS BETTER THEN CURE और हाइजीनिक सिद्धांतों के पालन में बुरहानपुर के विधायक ठाकुर सुरेंद्र सिंह शेरा भैया अपने परिवार सहित घर पर मंगलवार से 14 दिवस के लिए क्वॉरेंटाइन हो गए। सिविल सर्जन डॉक्टर शकील अहमद खान ने इस प्रतिनिधि को बताया कि बुरहानपुर के दाउदपुर मोहल्ले के एक पूर्व पार्षद की रिपोर्ट 27 अप्रैल 2020 को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के परिपेक्ष में माननीय विधायक ठाकुर सुरेंद्र सिंह शेरा भैया ने स्वविवेक से निर्णय कर स्वास्थ विभाग के अधिकारियों को अवगत कराया, जिसके पालन में उन्हें परिवार सहित क्वॉरेंटाइन किया गया। सिविल सर्जन डॉक्टर शकील अहमद खान ने बताया कि दाऊद पुरा वार्ड के पूर्व पार्षद का पुत्र विधायक महोदय के संपर्क में आया था और उसने उनके पिता (पूर्व पार्षद दाऊद पुरा)को किसी उपयुक्त शासकीय संस्थान में भर्ती कराने सहित इलाज में सहायता करने की प्रार्थना की थी। चूंकि यह महामारी एक संक्रामक है और इसी को ध्यान में रखते हुए हायजनिक सिद्धांत के पालन में उन्होंने अपने परिवार सहित क्वेयरंटाइन होने को प्राथमिकता दी है । विधायक बुरहानपुर ठाकुर सुरेंद्र सिंह शेरा भैया का घराना बरसों से एक राजनैतिक कराना रहा है। और लोगों की निगाहें भी उन पर और उनके परिवार पर अधिक रहती है। देश की वर्तमान परिस्थितियों के संदर्भ में एवं प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनने के बाद उन्हें मंत्रिमंडल में जगह पानी में जहां असफलता प्राप्त हुई है, वही निर्दलीय विधायक के रुप में अब जिले के अधिकारियों पर उन के प्रभाव में कमी महसूस की गई है। सियासी पंडितों के मुताबिक ऐसा माना जा रहा है कि बुरहानपुर के विधायक ठाकुर सुरेंद्र सिंह शेरा भैया ने क्वारेंटाइन होकर एक तीर से दो शिकार किए हैं। सियासी पंडितों के मुताबिक वे 14 दिवस के लिए क्वॉरेंटाइन हो गए हैं जिसके कारण जनता का उनसे जीवंत संपर्क समाप्त हो जाएगा । सियासी पंडितों के मुताबिक वहां क्वॉरेंटाइन में वह अपने अपने आप को सुरक्षित पा रहे हैं लेकिन मूल रूप से वह जनता की समस्याओं से आंख मूंद रहे हैं। कारण यह है कि जीरो ग्राउंड पर एक जागरूक विधायक के रूप में आज बुरहानपुर की जनता को उनकी बहुत जरूरत है। जनता के दरमियान रहने की जरूरत है। गरीब पावर लूम बुनकरों की समस्याओं को हल करने के लिए उनकी जरूरत है लेकिन वह आज परिवार सहित क्वॉरेंटाइन हैं।

Leave a Reply