गौरीफंटा बार्डर पर नेपाल ने खोला कोरोना को लेकर हेल्प डेस्क, तैनात हुई टीम, नेपाल मेयर ने की भारत से आने वाली बसों को बंद करने की मांग

दुनिया, देश, स्वास्थ्य

वी.के.त्रिवेदी, ब्यूरो चीफ, लखीमपुर-खीरी (यूपी), NIT:

भारत-नेपाल सीमा के गौरीफंटा बार्डर पर कोरोना वायरस का खौफ फैला हुआ है जिसको लेकर नेपाल में भी अलर्ट जारी हो गया है। नेपाल सीमा के रास्ते जिले में प्रवेश करने वाले 12 देशों के नागरिकों पर नेपाल ने खासा निगरानी रखी है। जिले में अब तक चीन, थाईलैंड और इंडोनेशिया से दो दर्जन लोग नेपाल लौटे हैं, इन सभी की निगरानी की जा रही है। गौरीफंटा बार्डर पर भी नेपाल की तरफ से कोरोना वायरस को लेकर हेल्प डेस्क की स्थापना कर दी गई है। यह हेल्प डेस्क 24 घंटे खुलेगा, जिसमें डाॅक्टर के
साथ टीम तैनात कर दी गई है। उधर नेपाल के धनगढ़ी मेयर ने भारत से नेपाल आने वाली बसों पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है।
बताते चलें कि चीन से फैला कोरोना वायरस काफी तेजी से विश्व में फैल रहा है। कई देशों में यह वायरस अपने पांव पसार चुका है। अब भारत में भी इस वायरस ने दस्तक दे दी है। नेपाल में भी कोरोना के कई केस मिलने से महकमे
की परेशानी और बढ़ गई है। इसको लेकर नेपाल बॉर्डर पर चैकसी बढ़ा दी गई है। जिला अस्पताल में कोरोना वायरस को लेकर आइसोलेशन वॉर्ड बना दिया गया है।
जिले में चीन, जापान, इंडोनेशिया, मलेशिया, थाइलैंड, साउथ कोरिया, इराक, ईरान, इटली, सिंगापुर, हांगकांग और नेपाल से आने वालों की खास निगरानी की जा है। वहीं नेपाल में कोरोना वायरस से पीड़ित के मामला आने के बाद सरहदी इलाकों को अलर्ट पर रखकर हेल्थ पोस्टों के माध्यम से जागरूकता फैलाई जा रही है। इसमें सीमा सुरक्षा बल (एसएसबी) भी सहयोग कर रही है। स्वास्थ्य
टीम की तैनाती कर दी गई है जिसमें नेपाल के डाॅ दिनेश लखाऊ के नेतृत्व में आने-जाने वाले लोगों की गहनता से जांच कर रहे हैं। सभी चेक करने के उपकरण लेकर नेपाल का स्वास्थ्य दस्ता बार्डर पर अलर्ट हो गया है।
गौरीफंटा बॉर्डर पर पर्चा बांट कर केवल खानापूर्ति हो रही है। जब कोई टीम दिल्ली या लखनऊ से आती है तो दिखावा के लिए केवल एंबुलेंस आती है बाकी समय एंबुलेंस आती ही नहीं है। उधर धनगढ़ी मेयर नृप बड ने बताया कि भारत से नेपाल का संबंध रोटी और बेटी का है लेकिन वर्तमान समय को देखते हुए हमारी यह मांग है कि भारत से नेपाल आने व जाने वाली बसों को तत्काल बंद कर दिया जाए जिससे दिल्ली में फैल रहा कोरोना वायरस धनगढ़ी तक न पहुंच पाए। बताया कि इसको लेकर दोनों देशों के शासन-प्रशासन से बात की जाएगी।

Leave a Reply