अयोध्या के ऐतिहासिक फैसले के बाद शहर में शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए पुलिस के साथ-साथ सामाजिक संगठन भी हैं मुस्तैद

देश, राज्य

आलम वारसी, ब्यूरो चीफ, मुरादाबाद (यूपी), NIT:

अयोध्या के ऐतिहासिक फैसले के बाद शहर में शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए एक ओर जहां पुलिस और प्रशासनिक अफसर सड़कों पर नजर आए, तो वहीं नागरिक सुरक्षा संगठन भी शहर की शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए अपने-अपने क्षेत्रों में अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए नजर आये। आज नागरिक सुरक्षा संगठन के स्वयंसेवकों ने भिन्न-भिन्न क्षेत्रों में जाकर जनता को सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले को स्वीकार करने के लिए कहा,उन्होंने बताया सुप्रीम कोर्ट देश की सबसे बड़ी न्यायिक संस्था है, उसका जो भी फैसला है यह बहुत अच्छा और ऐतिहासिक फैसला सुप्रीम कोर्ट ने दिया है इसको हमें मानना है एवं शांति एवं सौहार्द पूर्ण वातावरण बनाकर हमें दुनिया के लिए एक मिसाल कायम करनी है। हमारा भारत देश अमन चैन शांति का देश है और यही संदेश पूरी दुनिया में जाना चाहिए।
इस मौके पर सुरेंद्र प्रकाश गुप्ता, उप प्रभागीय वार्डन विचित्र शर्मा एडवोकट, उप प्रभागीय वार्डन पंकज सक्सेना, विजय रघुवंशी उमेश शर्मा, राकेश कुमार, राजन गुप्ता, रुद्राक्ष, अशोक कुमार गुप्ता आदि स्वयंसेवक मौजूद रहे।

Leave a Reply