प्रदूषण विभाग द्वारा पीतल भट्टियों पर की गई कार्रवाई को लेकर राष्ट्रपति को भेजा गया ज्ञापन

देश, राज्य, समाज

आलम वारसी, ब्यूरो चीफ, मुरादाबाद (यूपी), NIT:

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिला में पीतल का कारोबार लंबे समय से चलता आ रहा है। मुरादाबाद पीतल के कारोबार के लिए ही देश में विख्यात है लेकिन पीतल की भाटियों को प्रदूषण विभाग के द्वारा कार्यवाही कर बंद कर दिया गया जिसके बाद शहर के कारीगरों ने इकट्ठा होकर कमिश्नर कार्यालय पर प्रदर्शन कर प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड की खामियां गिनाई।

मुरादाबाद का नाम प्रदूषण के मामले में देश में पहले स्थान पर पहुंचने के बाद प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड की नींद टूट चुकी है। प्रदूषण विभाग के द्वारा नियमों को ताक पर रखकर प्रदूषण फैला रहे कारोबारियों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है जिसका विरोध करते हुए कारिगरों ने इकट्ठा होकर कमिश्नर कार्यालय पर प्रदर्शन किया और राष्ट्रपति को शिकायत पत्र भेजा जिसमें कहा गया है कि लोगों को डरा धमका कर उनके खिलाफ लगातार कार्यवाही की जा रही है जिससे कारिगरों के बच्चे भूखे मरने की कगार पर हैं। सभी ने मांग करते हुए कहा है कि कारीगरों की मदद के लिए जल्द से जल्द राष्ट्रपति महोदय कदम उठाएं।

Leave a Reply