अमानगंज थाने के अंदर युवक ने खाया जहर, घटना सीसीटीवी कैमरे में हुई कैद

अपराध, देश, राज्य, समाज

संदीप तिवारी, ब्यूरो चीफ पन्ना (मप्र), NIT:

पन्ना जिले के अमानगंज थाना अंतर्गत कमताना गांव की निवासी कृष्ण कुमार पांडे ने झूठी रिपोर्ट लिखने और पुलिस से परेशान होकर थाने के अंदर ही आज जहर खा लिया जिससे उसकी मौत हो गई। यह पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। इस सनसनीखेज घटना के बाद से पूरे इलाके में पुलिस के प्रति जबरदस्त नाराज़गी फैल गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कृष्ण कुमार पांडे की कमताना गांव की निवासी पयासी महिला से पहले से ही विवाद था, वह कई बार रिपोर्ट लिखवा चुकी थी। कृष्ण कुमार पांडे के खिलाफ छेड़खानी का मामला दर्ज था। 6 महीने पूर्व दर्ज हुए इस मामले से कृष्ण कुमार लगातार परेशान रहता था लेकिन आज फिर उसी महिला की छोटी बहन भी उसके खिलाफ रिपोर्ट लिखाने थाने पहुंच गई। परिजनों का आरोप है कि पुलिस भी उसे काफी परेशान कर रही थी जिससे थाने के अंदर ही उसने जहर खा लिया। यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। जो सीसीटीवी फुटेज है उसमें रिपोर्ट लिखाने जब महिला पहुंची तो उसके कुछ देर बाद मोटरसाइकिल से कृष्ण कुमार पांडे भी पहुंच गए और उन्होंने कहा कि झूठी रिपोर्ट लिखी जा रही है, मेरी भी रिपोर्ट लिखिए तभी थाने में कुछ बहस हुई और इसके बाद उसने बाथरूम में जाकर जहर खा लिया और कहा कि मैंने सल्फास खा ली है अब मेरी भी रिपोर्ट लिखो मेरे खिलाफ झूठी रिपोर्ट लिखाई जा रही है। हालत बिगड़ने पर परिजन पहुंचे और इलाज के लिए उसे पन्ना ले आए। कृष्ण कुमार पांडे की पत्नी ने जहर खाने के बाद पुलिस पर तत्काल इलाज न कराने और लापरवाही बरतने के आरोप लगाए हैं। जिला चिकित्सालय में इलाज के साथ डायन डिक्लेरेशन यानी मृत्यु पूर्व कथन भी कराया गया और जैसे ही कृष्ण कुमार पांडे को रेफर किया गया कि रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। उसका शव सतना जिला चिकित्सालय में रखा गया है जहाँ कल पोस्टमार्टम किया जाएगा।

ब्राम्हण समाज के पदाधिकारी थे कृष्ण कुमार

कृष्ण कुमार पांडे ब्राह्मण समाज के संभागीय पदाधिकारी थे और सामाजिक गतिविधियों में सबसे पहले बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते थे। मिलनसार और मददगार स्वभाव के कृष्ण कुमार पांडे की पहचान कुछ ही समय में पूरे जिले में बन गई थी और वह समाज के लिए हमेशा आगे आते रहे थे। इस घटना के बाद से समाज के लोगों ने दुख प्रकट किया है।

परिजनों का हो रहा है रो-रोकर हाल बेहाल

कृष्ण कुमार पांडे की छोटे-छोटे बच्चे हैं और घटना के बाद से ही पत्नी और बच्चों का रो-रोकर हाल बेहाल है। पत्नी ने महिला द्वारा लगातार परेशान करने और आत्महत्या के लिए प्रेरित करने के आरोप लगाए हैं।

मजिस्ट्रेट रियल जांच कराएंगे, दोषियों पर कठोर कार्यवाही होगी: एसपी

इस संबंध में एसपी मयंक अवस्थी का कहना है कि यह गंभीर मामला है, कृष्ण कुमार पांडे ने थाने में आकर जहर खाया है इस कारण से हमने इसे बड़ी गंभीरता से लिया है, इसकी मजिस्ट्रियल जांच कराने पर हम विचार कर रहे हैं। घटना की मजिस्ट्रियल जांच कराई जाएगी और दोषियों पर कठोर कार्यवाही की जाएगी। पुलिस पर जो परिजनों ने परेशान करने के आरोप लगाए हैं उस पर कहा कि शीघ्र ही थाना प्रभारी को वहां से हटाया जा रहा है और निष्पक्ष कार्यवाही की जाएगी, पुलिस की कार्यवाही पर किसी को संदेह नहीं होना चाहिए क्योंकि पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद है। कृष्ण कुमार पांडे जी को कोई पुलिस वाला परेशान करते नहीं दिख रहा है इसके बावजूद जो भी बात मजिस्ट्रियल जांच में सामने आएगी वैधानिक और कठोर कार्यवाही की जाएगी। एसपी मयंक अवस्थी ने इस पूरी घटना पर दुख प्रकट किया है और सभी लोगों से शांति और धैर्य बनाए रखने की अपील की है।

घटना के बाद से ही थाना प्रभारी का मोबाइल नंबर बंद बता रहा है जिससे उनकी प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है।

Leave a Reply