झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ हुई कार्रावाई से मचा हडकंप, अवैध रूप से चल रही क्लीनिक हुई सीज

अपराध, देश, राज्य, स्वास्थ्य

योगेश तिवारी, ब्यूरो चीफ, बाराबंकी (यूपी), NIT:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कड़े रवैए को दे खते हुए अधिकारियों ने झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ छापामार कार्रवाई करते हुए कुछ क्लीनिक को सीज कर मुकदमा दर्ज करा दिया है।

अधिकारियों ने छोलाछाप डाक्टरों तथा अवैध रुप से संचालित क्लीनिक के विरुद्ध छापेमारी अभियान चलाया। छापा के दौरान शुक्रवार को फतेहपुर स्थित जोशी टोला में अवैध रूप से चल रहे क्लिनिक संचालक डॉक्टर जुबैर की क्लीनिक पर छापेमारी के दौरान जुबेर के पास कोई भी ऐसा अभिलेख मौके पर नहीं दिखा पाया जिससे साबित हो वह वैध है। यही नहीं डॉक्टर जुबेर के हौसले इतने बुलंद थे की अवैध रूप से मेडिकल स्टोर तथा ऑपरेशन थ्रेटर भी चलाया जा रहा था जिसकी संबंधित दस्तावेज व रजिस्ट्रेशन ना मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम तथा उपजिलाधिकारी ने सेंटर चालक के खिलाफ कार्रवाई करते हुए वहीं क्लीनिक से कई मेडिकल उपकरणों को जब्त करके संबंधित धाराओं में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर सेंटर सीज कर दिया।

उपजिलाधिकारी पंकज सिंह, अधीक्षक अजय वर्मा, सीओ अरविंद कुमार सिंह की संयुक्त टीम की छापेमारी के दौरान कई मेडिकल स्टोर में छापेमारी की गई, जहां झोलाछाप डॉक्टर प्रैक्टिस करते थे। वहीं मेडिकल दुकान संचालकों को भविष्य में ऐसे कार्य नहीं करने की चेतावनी दी गई। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में कई झोलाछाप डॉक्टरों के द्वारा क्लिनिक का संचालन किया जा रहा है, जिसे छापेमारी कर शीघ्र कार्रवाई की जाएगी। छापेमारी में उपजिलाधिकारी फतेहपुर पंकज सिंह, सीओ अरविंद कुमार सिंह, व पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे।

कार्रवाई से झोलाछाप डॉक्टरों में मचा हड़कम्प
कार्रवाई के बाद फतेहपुर में प्रैक्टिस कर रहे फर्जी चिकित्सकों में हड़कंप मच गया है। इस कार्रवाई के बाद देखते ही देखते जंगल की आग की तरह यह बात आसपास के फर्जी डॉक्टरों के पास पहुंच गई और कुछ फर्जी चिकित्सक अपना क्लीनिक बंद कर फरार हो गए।

Leave a Reply