मेघनगर के पत्रकारों ने प्रभारी मंत्री सुरेंद्र सिंह (हनी) बघेल से मुलाकात कर की महिला चिकित्सक के न्युक्ति की मांग

देश, राज्य

रहीम शेरानी, ब्यूरो चीफ, झाबुआ (मप्र), NIT:

झाबुआ जिले के मेघनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर वर्षों से महिला चिकित्सक नहीं होने के कारण महिला मरीजों को अपना इलाज करवाने में बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लगातार जनता की मांग पर मेघनगर के जागरुक पत्रकारों ने प्रभारी मंत्री हनी बघेल से मुलाकात कर महिला चिकित्सक की नियुक्ति की मांग की जिस पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि मेघनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर जल्द ही महिला डॉक्टर नियुक्त की जाएगी। मेघनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एक दिन में लगभग तीन सौ से भी अधिक ओपीडी होती है। मेघनगर विकासखंड के 111 गांव की जनता मेघनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर अपना इलाज करवाने आती है और एक माह में लगभग 300 महिला प्रसव भी इसी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में होते हैं। ऐसे में पिछले 4 सालों से मेघनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर महिला चिकित्सक नहीं है। जिसको पूरा करने के लिए मेघनगर के जागरुक पत्रकारों ने अपनी कलम के माध्यम से कई बार अखबारों व न्यूज़ चैनलों में जनहित की खबरों को प्रकाशित किया । झाबुआ के प्रभारी व सूबे में पर्यावरण मंत्री सुरेंद्र हनी बघेल जो कि अपने एक दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को झाबुआ आए थे। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग एवं महिला बाल विकास आयोग के मंच के साथ मिलकर प्रभारी मंत्री से मेघनगर के राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग एवं महिला बाल विकास आयोग इंदौर संभागीय अध्यक्ष व पत्रकार निलेश भानपुरिया, रहीम शेरानी, भूपेंद्र बरमंडलिया, जाकिर हुसैन शेख, मनीष गिरधानी आदी के द्वरा महिला चिकित्सक की नियुक्ति के लिए प्रभारी मंत्री एवं थांदला विधायक वीर सिंह भूरिया से निवेदन किया। जिस को संज्ञान में लेते हुए प्रभारी मंत्री सुरेंद्र हनी बघेल ने तत्काल प्रभाव से महिला चिकित्सा मेघनगर की नियुक्ति हेतु अनुशंसा की गई। जिससे यह खबर मेघनगर में मिलते ही यहां की ग्रामीण एवं शहरी जनता में हर्ष की लहर है।

Leave a Reply