मध्यप्रदेश में लड़कियां अपनों से ही नहीं हैं सुरक्षित, मामा ने किया नाबालिग भांजी की अस्मत तार-तार

अपराध, देश, राज्य

सरवर खान जरीवाला, भोपाल (मप्र), NIT:

मध्यप्रदेश में लड़कियां अपनों से ही सुरक्षित नहीं हैं, ताजा मामला भोपाल के महिला थाने से सामने आया है जहां एक नाबालिग लड़की की इज्जत तार तार कर दी गई और इस घटना को अंजाम खुद पीड़िता के मुंह बोले मामा ने दिया है। इस कांड में आरोपी का एक दोस्त और उसकी पत्नी भी शामिल थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्यवाई शुरू कर दी है।

मिली जानकारी के अनुसार, 17 वर्षीय किशोरी शमशाबाद के एक गांव में रहती है। किशोरी का मुुंह बोला मामा राजन वाल्मिकी कोलार स्थित कजलीखेड़ा में रहता है। बीते 10 फरवरी को किशोरी अपनी मां के साथ मामा के यहां शादी में आई थी। किशोरी उस रात अपनी मामी संगीता के साथ सो रही थी तभी राजन उस कमरे में घुस गया और जबरन किशोरी के साथ ज्यादती की। राजन की पत्नी ने यह सब होते देखा लेकिन चुप रही। राजन ने किशोरी को धमकी दी की यदि यह बात किसी को बताई तो वह उसे जानसे मार डालेगा। राजन से डरकर किशोरी चुप रही और अपनी मां के साथ वापस अपने गांव आ गई।

इसके बाद राजन किशोरी को लगातार फोन करने लगा लेकिन किशोरी ने उससे कोई बात नहीं की। बीते शुक्रवार को सुबह किशोरी अपने घर से खेत जा रही थी तभी राजन अपने भाई अर्जुन के साथ बाइक से वहां आया और जबरन उसे बाइक पर बैठाकर कजलीखेड़ा स्थित अपने घर ले गया। जहां राजन ने फिर उसके साथ ज्यादती की।

किशोरी ने फोन पर इस घटना की जानकारी अपने परिजनों को दी। परिजनों भोपाल पहुंचे और किशोरी को लेकर महिला थाने पहुंचे। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने राजन, अर्जुन और संगीता के खिलाफ धारा 376 एफ, 376 (2)एन, 363, 506 34, 3, 4, 5(एन), 5(एल),6 पोस्को के तहत मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है। रिपोर्ट की खबर लगते ही तीनों आरोपी फरार हो गए हैं।

One thought on “मध्यप्रदेश में लड़कियां अपनों से ही नहीं हैं सुरक्षित, मामा ने किया नाबालिग भांजी की अस्मत तार-तार

Leave a Reply