पन्ना जिला के अमानगंज नगर में पानी पाइप लाइन बिछाने का कार्य जारी, ठेकेदार की लापरवाही से नागरिकों को करना पड़ रहा है दिक्कतों का सामना

देश, राज्य, समाज

संदीप तिवारी, ब्यूरो चीफ पन्ना (मप्र), NIT:

पन्ना जिला के अमानगंज शहर में जहां पानी सप्लाई के लिए पाइप लाइन बिछाने का कार्य होने से रहवासियों में खुशी की लहर दौड़ी हुई है वहीं ठेकेदार द्वारा रोड़ की खुदाई कर डाली गई मिट्टी से दुर्घटना की आशंका बनी होने के कारण लोगों में ठेकेदार के प्रति असंतोष फैला हुआ है।

अमानगंज नगर में करोड़ो रूपये की लागत से मीठे जल सप्लाई की योजना के तहत नगर की समूची पक्की गलियों के सीसी रोड जेसीबी मशीन लगा कर एक प्राइवेट कम्पनी द्वारा तुड़ाई कर पानी की पाइप लाइन बिछाई जा रही है, लेकिन इस खुदाई से समूचे नगर में लगता है जैसे भू कंप आ गया हो। जेसीबी मशीन की खुदाई से सीसी रोड के टूटे टुकड़ों से नगर अमानगंज के वाहन चालकों, छात्रों व राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

हर रात 11 बजे तक पाइप लाइन बिछाने का कार्य किया जाता है जाती है, इस दौरान जेसीबी मशीन की गड़गड़ाहट से रात में बच्चों व बूढों व आम लोगों की नींद में खलल पैदा हो रहा है। इसके साथ ही आवागमन अवरुद्ध होने के कारण लोगों को आपात स्थिति में अस्पताल पहुंचना काफी मुश्किल लग रहा है। लोगों का कहना है कि भगवान न करे अगर किसी की आकस्मिक तबियत खराब हो जाए तो एम्बूलेंस का पहुंचना भी दूभर हो जाएगा, साथ ही अमानगंज सीसी रोड तोड़कर कम्पनी द्वारा खोदी गई नाली से हजारों नल कनेक्शन भी प्रभावित हुए हैं जिससे आमनगंज नगर के आम जन मास को पानी सप्लाई में दिक्कत हो रही है। लोगों का कहना है कि अगर इस खुदाई के कारण बस या कोई अन्य वाहन दुर्घटना का शिकार होती है तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा?

ठेकेदार कंपनी के रत्नेश राजपूत से जब एनआईटी संवाददाता ने बात की तो उन्होंने बताया कि कम्पनी द्वारा मीठे पानी की सप्लाई के काम में एक से डेढ़ साल का वक़्त लगेगा। जब संवाददाता ने इनसे पूछा कि आपकी इस खुदाई से टूटी सीसी रोड के पड़े टुकड़ो के कारण यदि कोई नागरिक घायल या कोई वाहनू दुर्घटनाग्रस्त हो जाये तो इसकी जिम्मेदारी कोन लेगा, तो इस सवाल पर ठेकेदार ने चुप्पी साध ली।

Leave a Reply